Paper ka avishkar kisne kiya।कागज का आविष्कार किसने किया और कब किया

Paper ka avishkar kisne kiya|पेपर का अविष्कार किसने किया और कब किया ।

  • Paper ka avishkar kisne kiya

दोस्तों आपलोगों के लिए लाया हु एक बहुत ही महत्वपूर्ण टॉपिक| आज का हमारा टॉपिक है की paper ka avishkar kisne kiya और कब किया| दोस्तों वर्तमान समय में पेपर बहुत ही उपयोगी वस्तु है| पेपर का बिना सबकुछ अधुरा सा है| दोस्तों पेपर का उपयोग आज के समय में पूरी दुनिया में हो रहा है| लेकिन क्या इस पेपर के विषय में कुछ भी जानकारी है इसका अविष्कार कैसे हुआ| भारत में इसका खोज कब हुआ| दोस्तों आज हम आपको पेपर के इतिहास की पूरी जानकारी देने जा रहे है जिनसे आप आज तक अंजन होंगे| तो चलिए चलते है बिना वक्त गवाए आज का टॉपिक पर|

paper ka avishkar kisne kiya:-

दोस्तों दुनिया बहुत ही आधुनिक हो गया गई लेकिन पेपर की जरूरतों को नजर अंदाज नही कर सकते| दोस्तों पेपर का पर्योग आज के समय में पूरी दुनिया में हो रहा है| बच्चो की पढाई लिखाई से लेकर ऑफिस के किसी भी काम में पेपर बहुत ही जरुरी हो गया है| पेपर की आवश्यकता हमें हर जगह पड़ता है|

दोस्तों पेपर का अविष्कार होने से पहले लकड़ी या फिर किसी ठोस वस्तु पर लेखन का कार्य किया जाता था| वस्तुओं पर लेखन का कार्य करने में काफी कठिनाई होता था| तब Cai Lun (का्य लुन) ने घास फूस और लकड़ी से कागज यानि की पेपर का निर्माण किया| इस पर लेखन का कार्य करने में थोड़ा सुविधा होने लगा| धीरे धीरे पेपर का प्रचार प्रसार होने लगा लोग इसमें लिखने के कार्य में इस्तेमाल करने लगे|

दोस्तों का्य लुन चीन का रहने वाला था| चीन पेपर बनाने की विधि किसी को नही बताना चाहता था इसी कारण सिर्फ चीन ने ही कई सालो तक पेपर का प्रयोग अकेले ही किया| जैसे जैसे पेपर बनाने की विधि में सुधर होता गया वैसे वैसे पेपर में बदलाव होता गया|

पेपर का अविष्कार कब हुआ:-

Paper ka avishkar kisne kiya

लेखन का कार्य में परेशानी होने के कारण 202 ई0 पू0 में किया गया था| चीन के बाद भारत में पेपर का इस्तेमाल हुआ था| भारत में सबसे पहले पश्चिम बंगाल में पेपर बनाने का मिल बिठाया गया था|

पेपर बनने का इतिहास:-

दोस्तों जैसा की आपने ऊपर में पढ़ा की पेपर बनने के पहले लेखन के कार्य में काफी परेशानी होती थी| वो इसलिए की जब पेपर का अविष्कार नही हुआ था तब ताम्रपत्र, भोजपत्र, बांसमें रेशम में लिखा जाता था| रेशम काफी महंगा होता था और बांस काफी भरी होता था| इसी समस्या से निजात पाने के लिए का्य लुन ने 202 ईशा पूर्व में थोड़ा दिमाग लगा के कागज का कोशिश किया| पेपर बनाने के लिए उन्होंने सबसे पहले पिपेरिश नाम के पौधों का उपयोग किया जो मिस्र में नील नदी के किनारे उगाया जाता था| इसके बाद इसमें सुधर किया गया| पेपर को बेहतरीन बनाने के लिए घास फूस का प्रयोग किया जाने लगा| और पेपर की क्वालिटी में बदलाव किया गया| चीन में पेपर का अविष्कार होने के बाद भारत में भी इसका इस्तेमाल जोर शोर से होने लगा|

निष्कर्स:-

दोस्तों इस पोस्ट के माध्यम से आपने जाना की पेपर का अविष्कार कब हुआ, paper ka avishkar kisne kiya| हमें उम्मीद है आपको पूरी जानकारी मिल गई होगी| दोस्तों इस पोस्ट को पढने के बाद आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे और कमेंट बॉक्स कमेंट डरना नहीं भूलियेगा|

 

और पढ़ें:-

Toyota company ka malik kaun hai|और ये कहाँ की कंपनी है

Realme kis desh ki company hai, realme कंपनी का मालिक कौन है

puma किस देश की कंपनी है।।इस कंपनी का मालिक कौन है

vodafone ka malik kaun hai|वोडाफोन किस देश की कंपनी है-

vestige company ka malik kaun hai और यह किस देश की कंपनी है|

Leave a Comment